प्रो० अमृत कुमार झा ने ग्रहण किया मिथिला विश्वविद्यालय के प्रथम उप खेल पदाधिकारी का प्रभार

0
337

ONE NEWS LIVE NETWORK TEAM DIGITAL

प्रो० अमृत कुमार झा ने ग्रहण किया ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के प्रथम उप खेल पदाधिकारी का प्रभार

दादा रह चुके हैं प्रतिष्ठित सी. एम. साइंस कॉलेज के रसायन शास्त्र के विभागाध्यक्ष

दरभंगा के स्थानीय चतरिया गांव निवासी एवं नागेंद्र झा महिला कॉलेज के रसायन शास्त्र के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर आदित्य कुमार झा के पुत्र हैं प्रो० अमृत झा

प्रो० झा का शोध पत्र अंडरस्टैंडिंग कोरोनाफोबिया गूगल सर्च पर नंबर वन और राष्ट्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय अखबारों/पत्रिकाओं में हुआ था शुमार

ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा के पहले उप खेल पदाधिकारी के रूप में सी. एम. कॉलेज के मनोविज्ञान विभाग के प्रो० अमृत कुमार झा ने पदभार ग्रहण किया। मिथिला विश्वविद्यालय के कुलसचिव महोदय प्रो० (डॉ०) मुश्ताक अहमद ने उन्हें पदभार ग्रहण कराया। पदभार ग्रहण कराने के समय खेल-पदाधिकारी प्रो० अजय नाथ झा, डब्ल्यूआईटी के निदेशक डॉ० उमेश कुमार दास, वित्त समिति के सदस्य अरविंद कुमार सिंह आदि उपस्थित थे।
इस मौके पर उप-खेल पदाधिकारी प्रो० झा ने पदभार ग्रहण करते हुए कहा कि आज का दिन मेरे लिये विशेष है। मिथिला विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति महोदय प्रो० (डॉ०) सुरेंद्र प्रताप सिंह व कुलसचिव महोदय प्रो० (डॉ०) मुश्ताक अहमद ने जो मुझे नई जिम्मेदारी दी है। मैं उसे कर्तव्यपूर्ण तरीके से पूरा करूँगा। मेरी पूरी कोशिश रहेगी कि मिथिला विश्वविद्यालय में खेल के माहौल को ज्यादा से ज्यादा बढ़ाया जाए। विश्वविद्यालय में खेल मनोविज्ञान के आधार पर स्नातकोत्तर के छात्र-छात्राओं को विभिन्न खेलों से जोड़ने के लिये उन्हें प्रेरित करूँगा जिसके लिये जरूरत पड़ने पर उनका मनोवैज्ञानिक रूप से प्रशिक्षण एवं कॉउंसिलिंग भी किया जाएगा।प्रो० अमृत कुमार झा ने ग्रहण किया मिथिला विश्वविद्यालय के प्रथम उप खेल पदाधिकारी का प्रभार
इस मौके पर बधाई देने वालों में डॉ० आनंद मोहन झा, डॉ० विश्व दीपक त्रिपाठी, डॉ० प्रियंका कुमारी, डॉ० संजीव कुमार झा, डॉ० वरुण प्रभात, डॉ० मंसूर आलम श्री चंद्र कांत झा, श्री त्रिलोक नाथ मिश्र, सीनेटर मनीष कुमार, डॉ० चंदन ठाकुर, रंजीत कुमार चौरसिया, अजय कुमार व सुमित कुमार झा सहित विश्वविद्यालय परिवार व चंद्रधारी मिथिला महाविद्यालय परिवार दरभंगा सहित मिथिलांचल, कोसी एवं सीमांचल के कई गणमान्य शिक्षकों व शिक्षकेत्तर कर्मियों ने उन्हें बधाई दिया है।