भूतपूर्व प्रधानाध्यापक स्वर्गीय रामनरेश तिवारी की नौवी पुण्यतिथि मनाई गयी।

0
57

समस्तीपुर जिला के दूधपुरा स्थित प्रगति आदर्श सेवा केंद्र के सभागार में भूतपूर्व प्रधानाध्यापक स्वर्गीय रामनरेश तिवारी की नौ वी पुण्यतिथि साहित्यकार वीणा कुमारी की अध्यक्षता में मनाई गई| बताते चलें कि स्वर्गीय रामनरेश तिवारी अपने जीवन में शिक्षण कार्य के अलावा किसी दूसरे कार्य में अपने आप को कभी शामिल नहीं किया उनका मानना था कि समाज में शिक्षा के विकास से बढ़कर कुछ नहीं है और शिक्षकों को इस बात की अहमियत को समझनी चाहिए| समाज सेवा के क्षेत्र में वह सामाजिक संगठन प्रगति आदर्श सेवा केंद्र के संरक्षक सदस्य रहे| अपने विद्यालय के कार्यों के बाद वह संस्थान द्वारा चलाए गए सभी योजनाओं की खुद समीक्षा करते थे| इस अवसर पर एक कार्यशाला भी आयोजित की गई जिसका विषय था समाज के निर्माण में शिक्षा की भूमिका| स्वयंसेवी संस्था संघ बिहार के सचिव सह प्रगति आदर्श सेवा केंद्र के संस्थापक सचिव अधिवक्ता संजय कुमार बबलू ने कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा स्वर्गीय तिवारी के क्रियाकलाप आज भी समाज को मार्गदर्शन प्रदान कर रहा हैं| वह जिस विद्यालय में कार्यरत रहे वहां के लोग आज भी उन्हें याद करते हैं अपने जीवन में समाज के किसी भी लोगों से उनकी दुश्मनी नहीं हुई |आर्थिक संपन्नता के बावजूद भी कभी उन्होंने गलत तरीकों से धन हासिल करने का प्रयास नहीं किया| हमेशा से समाज के बच्चों को उच्च शिक्षा के लिए प्रेरित करते रहें और विद्यालय कार्य से आने के बाद समाज के बच्चों को निशुल्क शिक्षा प्रदान करते रहे| पुण्य तिथि पर आयोजित कार्यक्रम में नेहरू युवा केंद्र की पूर्व राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवक बबली कुमारी शिक्षिका कुमारी सुषमा सिंह राम दयाल दास सिया शरण शर्मा मोहम्मद अली साने आलम मो.असलम शाने अली राजेंद्र चंद्रवंशी के अलावे उनके परिवार के सदस्य सुष्मिता कुमारी गुलशन कुमार आदि ने उनके चित्र पर माला पहनाकर उनको भावभीनी श्रद्धांजलि दी|