रेल यांत्रिक कारख़ाना समस्तीपुर में बना सुपरवाईजर ट्रेनिंग सेंटर

0
41

ONE NEWS LIVE NETWORK WEB TEAM

देश भर के 75 निःशुल्क रेल प्रशिक्षण केन्द्रों से युवा प्राप्त करे सकेंगे व्यावसायिक प्रशिक्षणhttp://Onenewslive.net/निःशुल्क रेल प्रशिक्षण केन्द्रों से युवा प्राप्त करे सकेंगे व्यावसायिक प्रशिक्षण

रेल मंत्री ने योजना का किया शुभारंभ, रेल जीएम एवं समस्तीपुर डीआरएम वर्चुअल मध्यम से जुड़े

शुक्रवार को विश्वकर्मा पूजा एवं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर भारतीय रेल ने देश भर में एक साथ 75 विभिन्न रेलवे प्रशिक्षण संस्थानों के माध्यम से उद्योग से संबंधित कौशलों में प्रवेश स्तर का प्रशिक्षण प्रदान केन्द्रों की शुरुआत की। नई दिल्ली में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तत्वावधान में रेल कौशल विकास योजना का वीडियो लिंक के माध्यम से शुभारंभ किया। पूर्व मध्य रेल हाजीपुर जोन से हरनौत, पंडित दीन दीयाल उपाध्याय नगर एवं समस्तीपुर रेल मण्डल मुख्यालय स्थित यांत्रिक कारख़ाना में सुपरवाईजर ट्रेनिंग सेंटर को इस व्यावसायिक कोर्स के लिए तैयार किया गया है। नवनियुक्त पूर्व मध्य रेल जोन के महाप्रबंधक अनुपम शर्मा शुक्रवार सुबह विशेष ट्रेन से जीएम बनने के बाद पहली दफा समस्तीपुर पहुंचे। सबसे पहले उन्होने डीआरएम कार्यालय भवन स्थित ललित नारायण मिश्र की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया, तदुपरान्त डीआरएम कार्यालय स्थित मंथन सभागार में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नई दिल्ली स्थित रेल भवन से सीधे जुड़े। जीएम के साथ समस्तीपुर में ज़ोनल एवं मण्डल के सभी अधिकारी उपस्थित थे, साथ ही इस योजना से लाभान्वित होने वाले ट्रेनी छात्र भी जुड़े हुए थे। नई दिल्ली से रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने ट्रेनी छात्रों से संवाद कर उनका मनोबल बढ़ाया, इसी दरम्यान समस्तीपुर के प्रशिक्षु अनिकेत कुमार सिंह से भी रेल मंत्री ने उनके ट्रेड को लेकर बातचीत की। बता दें की रेल कौशल विकास योजना के तहत तीन साल की अवधि में 50,000 उम्मीदवारों को प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा गया है। प्रारंभ में केवल एक हजार उम्मीदवारों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण चार ट्रेडों- इलेक्ट्रीशियन, वेल्डर, मशीनिस्ट और फिटर में प्रदान किया जाएगा। प्रशिक्षण नि:शुल्क होगा एवं प्रतिभागियों का चयन मैट्रिक में अंकों के आधार पर एक पारदर्शी तंत्र का पालन करते हुए ऑनलाइन प्राप्त किए गए आवेदनों में से किया जाएगा। हालांकि इस प्रशिक्षण के आधार पर योजना में भाग लेने वालों का रेलवे में रोजगार पाने का कोई दावा नहीं होगा। मुख्य कारख़ाना प्रबन्धक वेद प्रकाश ने बताया की समस्तीपुर रेल यांत्रिक कारखाने में फिटर ट्रेड का प्रशिक्षण 01 अक्टूबर से दिया जाएगा, जिसमे एक सेशन में अधिकतम 20 छात्र लाभान्वित हो सकेंगे। समस्तीपुर में रेल जीएम के साथ हाजीपुर से सीपीओ जेकेपी सिंह के साथ अधिकारियों की पूरी टीम थी, जबकि समस्तीपुर रेल मण्डल मुख्यालय से डीआरएम आलोक अग्रवाल की अनुपस्थिति में एडीआरएम- 1 जेके सिंह ने रेल मण्डल का प्रतिनिधित्व किया, उनके साथ एडीआरएम- 2 जफर आजम, मण्डल कार्मिक अधिकारी ओमप्रकाश सिंह, सीनियर डीसीएम सरस्वती चन्द्र, मुख्य कारख़ाना प्रबन्धक वेद प्रकाश, आरपीएफ़ कमांडेंट एके लाल के साथ अन्य सभी शाखाधिकारी उपस्थित थे।